Category Archives: डचैस डि प्रैसलियर

आनन्‍द

विश्‍व में हमारा आनन्‍द इस बात पर निर्भर है कि हम औरों के हृदय में कितना प्रेम संचारित कर सकते है।– डचैस डि प्रैसलियर 

आनन्‍द

विश्‍व में हमारा आनन्‍द इस बात पर निर्भर है कि हम औरों के  हृदय  में कितना प्रेम संचारित कर सकते हैं।  —डचैस डि प्रैसलियर