Category Archives: अज्ञात

समस्‍या

अगर लोगों को आपसे समस्‍या है तो हमेशा याद रखे कि ये उनकी समस्‍या है आपकी नहीं। — अज्ञात

खूबसुरती

अगर रास्‍ता खूबसुरत है तो पता किजीए किस मंजिल तक जाता है लेकिन अगर मंजिल खूबसुरत है तो रास्‍ते की परवाह मत किजीए। — अज्ञात

गुस्‍सा

गुस्से को शरबत के घूँट की तरह पी जाओ, क्योंकि इस से अच्छी और कोई आनंद दायक और कोई वस्तु नहीं है ! – अज्ञात