ब्लॉग ब्लोक हो सकता है???????

आज कहीं पढ़ा की ब्लॉग ब्लोक हो सकता है ! अब अगर आशीष खंडेलवाल जी इसे पढ़े तो मार्गदर्शन करें ! उनसे मार्गदर्शन इसलिए की मुझ जैसा व्यक्ति जिसने कम्पूटर की कोई पढाई नहीं की! उनके ब्लॉग हिंदी टिप्स से लगातार सिखता जा रहा हूँ ! जो मेने उस लेख में पढ़ा उसे भी साथ ही लिख रहा हूँ !

अगर आप ब्लॉगर हैं और अपने ब्लॉग को सजाने के लिए यहां-वहां से गैजेट्स और टूल्स जुटाते रहते हैं तो आपको एहतियात बरतने की ज़रूरत है। गूगल के ब्लॉगर हेल्प फोरम को इन दिनों ऐसी तमाम शिकायतें मिल रही हैं, जिनमें ब्लॉग को ब्लॉक करने या हटा दिए जाने का हवाला देकर मदद मांगी गई है। ऐसे लोगों का कहना है कि कोई वजह बताए बगैर या चेतावनी दिए बिना ही उनके ब्लॉग हटा दिए गए। दरअसल गूगल या किसी भी पोर्टल पर रजिस्टर करते समय सारे नियम और शर्तें कोई पढ़ता ही नहीं। बाद में यही आदत फजीहत की वजह बनती है। गूगल पर लगे ऑटोमेटिक स्पाम फिल्टर ऐसी किसी गतिविधि का संकेत मिलते ही काम शुरू कर देते हैं, जो कंपनी की नीति और नियमों से मेल न खाते हों। वेब की दुनिया में किसी ब्लॉगर को ललचाने वाले वाले तमाम टूल्स मौजूद हैं। इन्हें हासिल करने और अपने ब्लॉग पर लाने के लिए आपको रजिस्ट्रेशन कराना पड़ता है। इस तरह अनजाने ही आप किसी गैर भरोसेमंद पोर्टल के साथ अपनी और गूगल की गोपनीयता साझा कर रहे होते हैं। स्पाम और वायरस के खतरे अलग से। इतनी वजह ऐसे किसी ब्लॉग को ब्लॉक करने के लिए आपको नाकाफी लगती है क्या? वजह कोई भी हो इससे ब्लॉगर्स को परेशानी स्वाभाविक है। महीनों या वर्षो की मेहनत और सृजन का इस तरह अचानक गायब होना बुरा लगेगा ही। इसलिए जरूरी है कि हर ऐरे-गैरे पोर्टल पर मौजूद वीडियो, फोटो फ्रेम, अलबम, म्यूजिक या आकर्षक लगने वाले ले-आउट के चक्कर में न पड़ें। अपने ब्लॉग की पोस्ट को दूसरी जगह भी सुरक्षित करते रहें। वर्ड प्रेस जैसे ब्लॉग आपको यह सहूलियत भी देते हैं कि आप किसी दूसरे पोर्टल की पोस्ट को वहां भी ट्रांसफर कर सकते हैं। इससे बाद में होने वाले झंझट से बचा जा सकता है। हां, अगर ब्लॉगर पर आपका ब्लॉग ब्लॉक हो गया हो तो हेल्प फोरम को हर पांच-छह दिन बाद लिखते रहें। कई बार इसकी रिकवरी में चार-पांच महीने भी लग जाते हैं।


This entry was posted in ब्‍लोगर्स on by .

About रौशन जसवाल विक्षिप्‍त

अपने बारे में कुछ भी खास नहीं है बस आम और साधारण ही है! साहित्य में रुचि है! पढ लेता हूं कभी कभार लिख लेता हूं ! कभी प्रकाशनार्थ भेज भी देता हूं! वैसे 1986से यदाकदा प्रकाशित हो रहा हूं! छिट पुट संकलित और पुरुस्कृत भी हुआ हूं! आकाशवाणी शिमला और दूरदर्शन शिमला से नैमितिक सम्बंध रहा है! सम्‍प्रति : अध्‍यापन

2 thoughts on “ब्लॉग ब्लोक हो सकता है???????

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s